वॉलीबॉल के बारे में जानकारी : 10 सबसे आवश्यक नियम

हेलो दोस्तों आज की इस आर्टिकल में वॉलीबॉल के बारे में जानकारी देने वाला हूं, जिसमें मैं बताऊंगा वॉलीबॉल किस देश का  राष्ट्रीय खेल है, वॉलीबॉल का पुराना नाम क्या है,  वॉलीबॉल के जन्मदाता कौन है, वॉलीबॉल में कितने खिलाड़ी होते हैं, वॉलीबॉल नेट की ऊंचाई क्या है, ग्राउंड की साइज क्या होती है, वॉलीबॉल मैदान का चित्र क्या है, वॉलीबॉल  के नियम क्या है, वॉलीबॉल में सर्विसिंग कितने प्रकार की होती है और वॉलीबॉल में सर्विसिंग कैसे करते हैं? 

तो चलिए वॉलीबॉल के इन सभी पॉइंट्स के बारे में विस्तार से चर्चा करते हैं, और वॉलीबॉल के बारे में जानकारी प्राप्त करते है|

वॉलीबॉल का परिचय: वॉलीबॉल के बारे में जानकारी in Hindi

1895 ईस्वी में अमेरिका से शुरुआत हुई है वॉलीबॉल गेम आज देश और दुनिया के तकरीबन हर जगह खेला जाता है, यह खेल विश्व के प्रमुख जगह जैसे कि ब्राजील, चीन, रूस, अमेरिका, यूरोप, श्रीलंका, बांग्लादेश, नेपाल और भारत के नेशनल स्टेडियम से लेकर स्कूल तक खेला जाता है | क्रिकेट फुटबॉल के बाद अगर किसी गेम प्रसिद्धि हासिल की है तो उसका नाम है वॉलीबॉल |

वॉलीबॉल के बारे में जानकारी
Image Credit: Pixabay

वॉलीबॉल का इतिहास in Hindi

वॉलीबॉल के जन्मदाता YMCA के भौतिक निर्देशक विलियम जी मोरगन को माना जाता है | विलियम जी मरेगन ने 1895 ईस्वी में वॉलीबॉल खेल का आविष्कार किया, शुरुआत में वॉलीबॉल का नाम मिटोंनेट (Mintonet) था |

बाद में 1 साल बाद यानी की 1896 ईस्वी में डॉक्टर अल्फ्रेड टी हाल एसटीडी ने इस खेल का नाम वॉलीबॉल रखा | भारत में वॉलीबॉल का खेल ऑथराइज्ड तरीके से सबसे पहले 1951 में वालीबॉल फेडरेशन ऑफ इंडिया के नाम से शुरुआत की गई, हालांकि आजाद भारत से पहले 1936 ई  से लेकर 1951 ई तक वालीबॉल चैंपियनशिप  का आयोजन होता था |

यह भारत देश के  हिमाचल प्रदेश राज्य का राजकीय खेल भी है |  विश्व में बात करें तो, श्रीलंका, नेपाल और बांग्लादेश का राष्ट्रीय खेल वॉलीबॉल है | 

वॉलीबॉल कैसे खेलते हैं ?

वॉलीबॉल जिस जगह पर खेला जाता है उसे कोर्ट कहते हैं | वॉलीबॉल दो टीमों के बीच खेला जाता है और हर टीम में 6 खिलाड़ी होते हैं,  दोनों टीमों के बीच एक नेता और एक एंटीना लगा होता है, |  प्रत्येक टीम  वॉलीबॉल बाल को नेट के दूसरे साइड पहुंचने की कोशिश करती है और इस तरह से वह पॉइंट बनाते हैं जो एक नियमबद्ध  तरीके से किया जाता है |

वॉलीबॉल में नेट होता है जो 8 फीट ऊंची हाइट पर होता है और दो एंटीना होती है और प्लेयर को बाल एंटीना के बीच से मरनी होती है |  टीम A  के खिलाड़ी बॉल को टीम B की तरफ फेंकते हैं और टीम B को बाल को अपने कोर्ट में गिरने से बचाना होता है और उसे बाल को फिर टीम A की तरफ नेट के ऊपर से फेंकना  होता है | 

वॉलीबॉल में प्रयोग होने वाली उपकरणों के नाम और उनके डीटेल्स: –

बॉल – वॉलीबॉल में प्रयोग होने वाली बाल लेदर और सिंथेटिक लेदर की बनी होती है जिसकी परिधि 65-67 सेंटीमीटर की होती है, इसका वजन समानता 260-280 ग्राम का होता है इसके अंदर का प्रेशर 0.30-0.325 kg/sqcm होता है |

वॉलीबॉल नेट – वॉलीबॉल में प्रयोग होने वाली नीट की चौड़ाई 1 मीटर की होती है इसकी लंबाई 2.43m मेंस कंपटीशन के लिए और वूमेंस कंपटीशन के लिए 2.24m मीटर की होती है |

वॉलीबॉल कोर्ट और वॉलीबॉल ग्राउंड

वॉलीबॉल जिस जगह पर खेली जाती है उसे कोर्ट कहते हैं जिस तरह क्रिकेट में उसे जगह को पिच कहा जाता है इस तरह वॉलीबॉल में उसे जगह को कोर्ट कहा जाता है |  कोर्ट  18 मीटर लंबा और 9 मीटर चौड़ा जगह होता है जो दो हिस्सों में नेट और एंटीना के द्वारा अलग अलग  किया जाता है | 

वॉलीबॉल का मैदान का चित्र
वॉलीबॉल का मैदान का चित्र

वॉलीबॉल में सर्विस कितने प्रकार की होती है ?

 जो  प्लेयर  पहले बोल फेंक कर शुरुआत करता है उसे सर्विस कहते हैं |  सर्विस करने  के भी कुछ रूल्स होते हैं |  सर्विस करते समय  प्लेयर को कोर्ट के बाहर खड़ी होकर बैल को फेंक ना होता है  और यह बोल अगर दूसरी टीम के कोर्ट के निशान के अंदर गिरती है तो इसे सही सर्विस माना जाता है | सर्वे करने के बहुत सारे तरीके होते हैं –

  • अंडर हैंड
  • स्काई बॉल कर
  • टॉप स्पिन
  • फ्लोट
  • जंप सर्व
  • जंप फ्लोट

सेट– यह एक समानता दूसरा स्पर्श होता है | इसका प्रमुख लक्ष्य या बाल को सेट कर कर अपने खिलाड़ी को देना ताकि वह अच्छे से अटैक कर गोल कर सके|

पास – यह पहला स्पर्श होता है इसमें खिलाड़ी बाल को अपने खिलाड़ी को पास करते हैं और सही पोजीशन और समय का इंतजार करते हैं |

अटैक – यह थर्ड कांटेक्ट होता है यानी कि तीसरी स्पर्श, इसमें खिलाड़ी द्वारा सेट किए गए बाल को अटैक कर कर दूसरे टीम के कोर्ट में गिरने की कोशिश किया जाता है ताकि गोल हो सके |

ब्लॉक – जैसा के नाम से जाहिर है ब्लॉक मेंस दूसरे टीम के द्वारा किए गए अटैक को बचाना होता है ताकि गोल ना हो सके|

डिग – डिगिंग अटैक किए हुए बाल को बचाने के लिए किया जाता है जब वह नीचे की तरफ दिखता है तो खिलाड़ी नीचे की तरफ लपक कर बाल को ऊपर की तरफ उछाल देता है ताकि बोल को दूसरे टीम की तरफ फेंक सके और इस तरह से गोल होने से बच जाता है |

इसे भी पढ़ें –

RESUME KAISE BANAYE:7 आसान STEPS में

वैश्वीकरण क्या है : वैश्वीकरण के 5 कारणऔर प्रभाव

वॉलीबॉल खेल में कितने खिलाड़ी होते हैं ?

वॉलीबॉल मे एक टीम में 6 खिलाड़ी होते हैं | खेल के दौरान सभी खिलाड़ी एक निश्चित स्थान पर खड़े होते हैं यह स्थान को अलग-अलग नाम से जाना जाता है जैसे की स्टेटस जो बाल को सेट करता है और हीटर को अच्छा पोजीशन प्रोवाइड करता है | मिड ब्लॉकर या मिड हिटर जो बाल को ब्लॉक करते हैं या बाल को हिट करते हैं |

आउटसाइड हीटर और लेफ्ट साइड हिटर जो आउटसाइड या लेफ्ट साइड जा रही बाल को हिट करते हैं | अपोजिट हीटर और राइट साइड हिटर – जो अपोजिट टीम की तरफ से हिट किए गए बाल को उसे हिट कर कर डिफेंस करते हैं |

वॉलीबॉल का क्या नियम है? 10 सबसे आवश्यक नियम!

वॉलीबॉल जिस जगह पर खेला जाता है उसे कोर्ट कहते है| कोर्ट पर दोनों टीमों के बिच में एक नेट बंधा हुआ होता है| वॉलीबॉल का खेल शुरू करने के लिए सिक्क्का उछाल कर टॉस किया जाता है, और जो टीम टॉस जीतती है उसे पहले सर्व करने का मौका दिया जाता है| सर्व करने का मतलब है की एक टीम की खिलाड़ी बेसलाइन के पीछे से गेंद दूसरी टीम के तरफ फेंकता है, और इसी तरह ये खेल आगे खेला जाता है|

  • अपोनेंट टीम को गेम को नेट पर वापस हिट करने के लिए तीन मौके दिए जाते हैं
  • वॉलीबॉल कोर्ट में खेल के समय सिर्फ 6 खिलाड़ी होने चाहिए.
  • सबसे पहले सर्व कौन करेगा यह टॉस पर निर्भर करता है जो पहले टॉस जीता है वही पहले सर्व करते हैं.
  • सर्व हमेशा सीमा रेखा के बाहर से किया जाता है.
  • जो टीम जीती है उस सर्वे करने का अधिकार होता है.
  • बॉर्डर लाइन पर अगर बॉल टच करती है तो उसे इन माना जाता है.
  • वॉलीबॉल कोर्ट की लंबाई 18 मीटर और चौड़ाई 9 मी का होना चाहिए.
  • वॉलीबॉल में स्कोरिंग को रैली पॉइंट स्कोरिंग कहा जाता है.
  • मैच 25 अंकों का होता है जो टीम पहले इसे बना लेती है वोटिंग जीत जाती है
  • बाल को हिट करने के लिए तीन चांस दिए जाते हैं.

FAQs

वॉलीबॉल किस देश का  राष्ट्रीय खेल है?

वॉलीबॉल श्रीलंका, बांग्लादेश और नेपाल देश का राष्ट्रीय खेल है |

वॉलीबॉल में कितने खिलाड़ी होते हैं?

वॉलीबॉल दो टीमों के बीच खेला जाता है और हर टीम में 6 खिलाड़ी होते हैं |

वॉलीबॉल का पुराना नाम क्या है?

वॉलीबॉल का पुराना नाम मिटोंनेट (Mintonet) है |

वॉलीबॉल नेट की ऊंचाई कितनी होती है?

वॉलीबॉल में प्रयोग होने वाली नीट की चौड़ाई 1 मीटर की होती है इसकी लंबाई 2.43m मेंस कंपटीशन के लिए और वूमेंस कंपटीशन के लिए 2.24m मीटर की होती है |

उम्मीद है वॉलीबॉल के बारे में जानकारी पर लिखी हुई है आर्टिकल आपको बहुत पसंद आया होगा इसी तरह की मजेदार और शानदार जानकारी के लिए आप इस वेबसाइट को फॉलो कर सकते हैं.